सामान्य उपाय

प्रश्न 1 : क्यों नौकरी में स्थिरता शून्य है ?
उत्तर : हर साल कम से कम दस संतों को भोजन कराएं, पर उनको पैसे न दें। गुड़ और गेहूँ की मिठाई बनाकर 43 दिनों तक उसे स्कूली बच्चों को बांटे। रोज़ाना केसर को अपने माथे, जीभ और ठुण्डी पर रखे। 43 दिनों तक हर रोज़ तीन-तीन केले मंदिर में दान करें।

प्रश्न 2 : आप बहुत सारे साक्षात्कार दे चुकें है, लेकिन हमेशा कमी रह जाती है ?
उत्तर : सरकारी संस्था को दो मुट्ठी भर सौंफ दे. 43 दिनों के लिए अपने पिता को मिठाई (पतिशा) खिलाएं, साथ ही उनको सात रति लाल मूंगा सोने के साथ पहनाएं |

प्रश्न 3 : क्या आपको सरकार से समस्याएं है?
उत्तर: राहु की वस्तु के रूप में नीले और काले रंग से बचें। अदित्य हर्दिए सूत्र पढ़े। बंदरों को गुड़ का सेवन कराएं। लाल रूमाल में मंदिर से कुछ पैसे अपनी जेब में रखें( अगर सभंव हो सके तो पैसे कांसे के रखें)। चार नारियल और 400 ग्राम बादाम पानी में जरूर गलाएं। यदि किसी का अपने पिता से भेदभाव(झगड़ा) है या उसके पिता कुछ काम करने में असमर्थ है उन्हें अवश्य ही सूर्या मथ्यम् राही मार्तडं यंत्र पहनना चाहिए।

प्रश्न 4 : आपने सरकारी कार्यों में शामिल होने की कोशिश की हो, लेकिन कभी आपको सफलता नहीं मिली?
उत्तर : राहु की वस्तु के रूप में नीले और काले रंग से बचें। अदित्य हर्दिए सूत्र पढ़े। बंदरों को गुड़ का सेवन कराएं। लाल रूमाल में मंदिर से कुछ पैसे अपनी जेब में रखें( अगर सभंव हो सके तो पैसे कांसे के रखें)। चार नारियल और 400 ग्राम बादाम पानी में जरूर गलाएं। यदि किसी का अपने पिता से भेदभाव(झगड़ा) है या उसके पिता कुछ काम करने में असमर्थ है उन्हें अवश्य ही सूर्या मथ्यम् राही मार्तडं यंत्र पहनना चाहिए।

प्रश्न 5 : घर में झगड़े होते है ?
उत्तर :43 दिनों के लिए अपने सिर की तरफ पानी रखें फिर इसे बबूल के पेड़ में प्रवाहित करें। 43 दिनों तक मंदिर में तीन-तीन केले दें। गंगाजल रखें और एक चाँदी के कटोरे में वर्गाकार चांदी का बर्तन रखें। किसी बढ़े या अपनी माँ जिससे आपको शिक्षा मिलती हो उनके पैरों को छू कर आर्शीवाद लेते रहें। यदि उत्तर-पश्चिमी दिशा में कोई बक्सा,संदूक़ या कुछ गंदगी रखी हो तो उसे तुरंत हटा दे।( गले में चंद्रा, केतु मथ्यम मंत्रा यंत्र पहनें)।

प्रश्न 6 : जो कुछ भी आप करते है, वह अधूरा रह जाता हो ?
उत्तर : मंदिर में 43 दिनों तक गाय के घी का दिया जलाएं। धार्मिक स्थान पर ज़मीन में उगने वाली सब्जि का दान करें। गलें में सूर्या मथ्यम मार्तंड यंत्र पहनें।

प्रश्न 7 : क्या आप बिना सोये रातें गुजारते है ?
उत्तर : लाल सूती कपड़े में 2 किलो सौंफ अपने बेड रूम में रखें, दो किलो सफेद गुड़ लाल कपड़े में रखे। अपने सिरहाने पानी रखें और इस पानी को पेड़ पर बहा दे. कभी भी इस पानी को पीएं नहीं। सोते समय कभी भी अपना सिर पूर्व और उत्तरी दिशा की तरफ न रखें। तीन-तीन केले 43 दिनों तक मंदिर में दान करें, कुत्ते की सेवा करें। अपने गले में केतु मध्यम यंत्र अवश्य पहनें और यदि आपके कमर या पैरों में दर्द है तो अपने बाएं हाथ की तरफ सोना शुरू कर दें।

प्रश्न 8 : क्या आप उदास रहते है ?
उत्तर : हरे और नीले रंगों से बचे, बुद्ध और राहु की सभी वस्तुओं को हटा दें। गलें में बुद्ध और राहु यंत्र पहने। 6 दिन के लिए अपनी नाक पियर्स ( छेदे) करें, सोने या चांदी की अंगूठी पहनें या फिर आप सफेद धागा भी पहन सकते है। छ दिनों तक छ लड़कियों को एक-एक बादाम खिलाएं।

प्रश्न 9 : क्या आप हमेशा डरते है ?
उत्तर : अपने तकिएं में लाल रंग की फिटकरी रखें। मंदिर में नारियल और बादाम रखें या उन्हें पानी में भिगोएं। अपने कान को छिदवाएं(पियर्स) और उसमें सोना पहनें। अगर आपको जल्दी गुस्सा आता हो तो आप गले में सूर्य शनि मार्दंड यंत्र पहनें। यदि आप स्वभाव से रोगी हैं तो चंद्र राहु मार्दंड यंत्र पहने।

प्रश्न 10 : क्या आपको मृत्यु से भय लगता है ?
उत्तर : अपनी नाक को छिदवाएं और उसमें 96 दिनों के लिए चांदी पहने। खाली करवा(धातु या मिट्टी का बरतन) को 43 दिनों तक पानी में भिगोएं। अपनी बीच की उंगली में लोहे की अंगुठी पहनें( गले में बुद्ध सर्वा मार्दंड यंत्र पहनें) और छेद वाला पीतल का सिक्का भी पहनें।

प्रश्न 11 : क्या आपकी अध्ययन में रूचि नहीं?
उत्तर : 43 दिनों तक मंदिर में 500 मिलीलीटर दूध चढ़ाएं या मंदिर में दान करें। शाम को दूध और चावल का इस्तेमाल न करें। चांदी के कटोरे में गंगाजल रखे, हमेशा अपने माथे, जीभ और नाभि पर केसर लगाएं। 43 दिनों तक बरगद के पेड़ पर दूध चढ़ाएं और गीली मिट्टी पर निशान लगाएं। हर सोमवार और गुरूवार के दिन सफेद व पीले घोड़े को चना खिलाएं। अपने गले में चंद्र गुरू मध्यम मार्दंड पहनें।

प्रश्न 12 : क्या आप किसी भी चीज़ में दिलचस्पी नहीं ले पात ?
उत्तर : 43 दिनों तक मंदिर में 500 मिलीलीटर दूध चढ़ाएं या मंदिर में दान करें। शाम को दूध और चावल का इस्तेमाल न करें। चांदी के कटोरे में गंगाजल रखे, हमेशा अपने माथे, जीभ और नाभि पर केसर लगाएं। 43 दिनों तक बरगद के पेड़ पर दूध चढ़ाएं और गीली मिट्टी पर निशान लगाएं। हर सोमवार और गुरूवार के दिन सफेद व पीले घोड़े को चना खिलाएं। अपने गले में चंद्र गुरू मध्यम मार्दंड पहनें।

प्रश्न 13 : क्या आप अपने आप को बेचारा और असहाय महसूस करते है?
उत्तर : हर सौर और चंद्र ग्रहण पर चार नारियल और 400 ग्राम बादाम पानी में गलाएं, पूर्वोत्तर दिशा में एक मिट्टी के बर्तन में पानी रखें, चांदी पहनें और अपने वजन के बराबर गाय को हरा चारा दान करें। परफ्यूम रोज़ाना इस्तेमाल करें, रोजाना नहाएं और कपड़े स्त्री करके ही पहनें। साथ ही सूर्योदय के सामने रोज़ाना खड़े हो।

प्रश्न 14 : आपको मौके मिले है, पर आप अपने डर के वजह से उन्हें झपट नहीं पाए या खो बैठे हैं ?
उत्तर : पीले रंग का अंदरूनी वस्त्र पहनें। पीले कपड़े में नौ लाल मिर्च रखें और उन्हें कील से जड़ दे अपने घर में। 43 दिनों के लिए फिटकरी से अपने दांतों को साफ करें। अपने गले में राहु मध्यम मार्दंड यंत्र पहनें।



clpse